हमारा तिरंगा झंड़ा (बाल कविता)

तीन रंग और चक्र से बना तिरंगा,
अडिग खड़ा है हमारा तिरंगा।
एकता का आधार है तिरंगा,
स्वदेश की पहचान है तिरंगा।
हम सब का रुझान है तिरंगा ,  
प्रेम का परिधान है तिरंगा।
आन-वान व शान है तिरंगा,
स्वराष्ट्र का अभिमान है तिरंगा। 
राष्ट्रगान का साथी है तिरंगा,
गगनचुंबी उम्मीद है तिरंगा।
हवा में फर-फर लहराता है तिरंगा,
दुश्मन को थर्रा देता है तिरंगा।
संगठन को संगठित करता है तिरंगा,
स्वाभिमान का गौरव गान है तिरंगा।
हमें गर्व है, अपना है तिरंगा,
सलामी देते है, हम सबका है तिरंगा।
              

No comments:

शंखनाद (कविता)